My View

Feelings

218 Posts

416 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 6094 postid : 1238721

मैं सृष्टि की कृति

Posted On: 30 Aug, 2016 Religious,Others,Social Issues में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

मैं सृष्टि की कृति हूँ,
ईश्वर का उपहार ,
पुरूषों ,गर मान मिला है ,
तो ,मैं हूँ इसका आधार !
जिसे मैं सिञ्चित करती ,
वह मेरा परिवार,
मिटाकर स्व को
बचाती मैं तेरा अहंकार!

पुराण पलटकर देखो तुम
दानवों से मैंने ही बचाया था;
शक्ति ,सरस्वती हर रुप में
वीर बुद्धिमान तुझे बनाया था।
जब तक श्रद्धा दिया तुमने
लक्ष्मी बन मान तेरा बढाया
मॉ बहन संगिनी रुप में
अभिमान तेरा बढ़ाया था ।
जब जब दु:साहस किया तुमने,
दुर्व्यवहार किया नारी से
पतन हुआ समाज का
बच न पाया कोई मॉ दुर्गा के ताप से

,



Tags:     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran